Homeअर्थआदिवासी का मतलब क्या होता है? | Adivasi Ka Matlab Kya Hota...

आदिवासी का मतलब क्या होता है? | Adivasi Ka Matlab Kya Hota Hai? | आदिवासी कौन है? | Adivasi Kaun Hai?

हेल्लो दोस्तो, अगर आप इंटरनेट पर ढूंढ रहे है – आदिवासी का मतलब क्या होता है? Adivasi Ka Matlab Kya Hota Hai?, Adivasi Meaning In Hindi, आदिवासी कौन है? Adivasi Kaun Hai? भारत में आदिवासी कहाँ कहाँ रहते है? आदिवासी में कौन कौन जाति आता है? आदिवासी कौन कौन भाषा बोलते है? आदिवासी समुदाय का धर्म क्या है? आदिवासी का झण्‍डा क्या है? आदिवासी समुदाय आदर्श व्यक्ति तो अब आपको कही और ढूंढने की जरूरत नहीं है क्योंकि इस आर्टिकल में आप इन सभी जानकारी को पढ़ेंगे। अतः इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े।

Adivasi Ka Matlab Kya Hota Hai, आदिवासी का मतलब क्या होता है?आदिवासी का मतलब बताएँ
आदिवासी का मतलब क्या होता है?

विषय सूची

आदिवासी का मतलब क्या होता है? | Adivasi Ka Matlab Kya Hota Hai in Hindi?

आदिवासी शब्द दो शब्दों ‛आदि’ और ‛वासी’ से मिल कर बना है। ‛आदि’ का मतलब ‘आरंभ से’ और ‛वासी’ का मतलब ‘रहनेवाला‘ अर्थात आदिवासी का मतलब “मूलवासी” होता है।

आदिवासी कौन है? | Adivasi Kaun Hai?

भारत में आदिवासियों को “जनजाति” के रूप में जाना जाता है। भारतीय संविधान (Constitution of India) में आदिवासियों के लिए ‘अनुसूचित जनजाति (Scheduled Tribes)‘ पद का उपयोग किया गया है। जिन्हें “पांचवी अनुसूची में मान्यता दी गई है। अक्सर इन्हें अनुसूचित जातियों के साथ एक ही श्रेणी “अनुसूचित जाति एवं जनजाति (Scheduled Caates and Tribes)” में रखा जाता है। जनगणना 2011 के अनुसार भारत के कुल आबादी के 8.6% (10 करोड़) आदिवासियों का है जो देश के विभिन्न क्षेत्रों में रहते है।
चंदा समिति ने सन् 1960 में अनुसूचति जनजातियों (Scheduled Tribes) समुदाय के अंर्तगत किसी भी जाति / समुदाय को शामिल करने के लिये 5 मानक निर्धारित किया हैं:

  • आदिम लक्षणों के संकेत
  • भौगोलिक एकाकीपन
  • विशिष्ट संस्कृति
  • समुदाय के साथ स्वछंद सम्पर्क में संकोच, तथा
  • पिछड़ापन।

FAQ:-

भारत में आदिवासी कहाँ कहाँ रहते है? | Bharat Me Adivasi Kaha Kaha rahte hai?

भारत में आदिवासी समुदाय मुख्य रूप से उड़ीसा, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान इत्यादि राज्यो में बहुसंख्यक व बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, गुजरात, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश राज्यो में अल्पसंख्यक है जबकि भारतीय पूर्वोत्तर राज्यों जैसे मिजोरम में यह बहुसंख्यक हैं।

आदिवासी में कौन कौन से जाति आते हैं? | Adivasi Me Kaun Kaun Se Jati Ate Hai?

भारत के प्रमुख आदिवासी समुदायों में मुण्डा, पटलिया, भील, गोंड, कोल, लोहार, संथाल, भीलाला, धानका, टाकणकार, मीणा, हो, खड़िया, कुड़मी, बोडो, कोली, आंध, फनात, सहरिया, महतो, उरांव, परधान, बिरहोर, पारधी इत्यादि जातियां आता है।

आदिवासी कौन कौन भाषा बोलते है? | Adivasi Kaun Kaun Bhasha Bolte Hai?

भाषाविज्ञानियों के अनुसार भारत मे आदिवासी समुदाय मुख्य रूप से तीन भाषा परिवार बोलता है – गोंडी, द्रविड़, आस्ट्रिक। आदिवासी भाषाओं (Tribes Languages= में ‘भीली (Bhili)’ बोलने वालों की संख्या सबसे ज्यादा है जबकि दूसरे स्थान पर ‘गोंडी (Gondi)’ भाषा और तीसरे स्थान पर ‘संताली (Santhali)’ भाषा है। भारतीय राज्यों में एकमात्र झारखण्ड (Jharkhand) में ही 5 आदिवासी भाषाओं – संताली (Santhali), मुण्डारी (Mundari), हो (Ho), कुड़ुख (Kudukh) और खड़िया (Khadiya) – को 2011 में द्वितीय राज्यभाषा (second state language) का दर्जा प्रदान किया गया। भारत मे बोली जाने वाली 114 मुख्य भाषाओं में से 22 को ही संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल किया गया है। इनमें से संताली और बोड़ो ही मात्र आदिवासी भाषाएं को शामिल किया गया हैं।

आदिवासी का धर्म क्या है? | Adivasi Ka Dharm Kya Hai?

आदिवासी प्रकृति पूजक होते है। वे प्रकृति में पाये जाने वाले सभी जीव, जन्‍तु, वन, पर्वत, नदिया, नाले, खेत और सूर्य इन सभी सजीव निर्जीव वस्‍तुओं की पूजा करते है। आदिवासी समुदाय (Tribal Community) मानते है कि प्रकृति की हर एक वस्‍तु में जीवन होता है। ये लोग किसी लिखी धर्म को नही मानता है। भारत में 1871 से लेकर 1941 तक हुई जनगणनाओं में आदिवासियों को अन्‍य धमों से अलग धर्म में गिना गया है, जिसे एबओरिजिन्स (Aborigins), एबोरिजिनल (Aboriginal), एनिमिस्ट (Animist), ट्राइबल रिलिजन  या ट्राइब्स  (Tribal Religion or Tribes) इत्यादि नामों से वर्णित किया गया है। लेकिन 1951 की जनगणना के बाद से आदिवासियों को अलग से गिनना बन्‍द कर दिया गया है। आदिवासी समुदाय का मांग है कि जनगणना में हमारी पहचान लिए अलग कलम हो।

आदिवासी का झण्‍डा क्या होता है?

आदिवासी समुदाय (Tribal Community) के लोग अपने धार्मिक स्‍थलों, खेताें, घरों आदि में एक विशिष्‍ट प्रकार का झण्‍डा लगाते है, जो अन्‍य धमों (Religions) के झण्‍डों से अलग होता है। आदिवासी झण्‍डें में सूरज (Sun), चांद (Moon), तारे (Star) इत्‍यादी सभी प्रतीक विद्यमान हैं। आदिवासी के झण्‍डे सभी रंग के होते है। वो किसी रंग विशेष से बंधे हुये नहीं होते। भारत ही नहीं अपितु पूरे विश्‍व के आदिवासी (world’s tribes) कहे जाने वाले आदिवासीयों के झण्‍डों में सूरज, चांद, तारे आदि कहीं ना कहीं बने हुये होते है।

आदिवासी समुदाय का धर्म क्या है? आदिवासी का झण्‍डा क्या है?
आदिवासी का झण्‍डा क्या है?

आदिवासी समुदाय अपना आदर्श किसको मानते है?

आदिवासी समुदाय में प्रमुख व्यक्ति जिनका देश और समाज में बड़ी भूमिका रहा है।

  • बिरसा मुण्डा
  • जयपाल सिंह मुण्डा
  • रामदयाल मुण्डा
  • राणा पुंजा भील
  • नागल कोल रेवा रियासत (कोलगढि )
  • कार्तिक उरांव
  • मानसिंह रौतिया
  • तात्या भिल
  • गंजन सिंह कोरको
  • रानी दुर्गावती

दोस्तों, आशा है इस आर्टिकल में दी गई जानकारी – आदिवासी का मतलब क्या होता है? Adivasi Ka Matlab Kya Hota Hai? Adivasi Meaning In Hindi / आदिवासी का मतलब बताएँ, आदिवासी कौन है? Adivasi Kaun Hai? भारत में आदिवासी कहाँ कहाँ रहते है? आदिवासी में कौन कौन जाति आता है? आदिवासी कौन कौन भाषा बोलते है? आदिवासी समुदाय का धर्म क्या है? आदिवासी का झण्‍डा क्या है? आदिवासी समुदाय आदर्श व्यक्ति आपको पसंद आया हो तो सोशल मीडिया पर शेयर करें और नीचे कमेंट कर अपनी प्रतिक्रिया दे। स्रोत विकिपीडिया एवं इंटरनेट स्पेस धन्यवाद

- विज्ञापन -

4 COMMENTS

  1. आदिवासी का कोई धर्म का कोई किताब है.
    जैसे_ इशाई धर्म का बाइबल है वैसे ही होड़ hopon ka ( बिदीन होड़ का)?

    • जब आदिवासी समुदाय किसी धर्म को मानता ही नहीं है तो स्पष्ट है उसका धर्म का कोई किताब नहीं है.

  2. आच्छा जानकारी है लेकिन ईसे और बडा विस्तार से लिखें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- विज्ञापन -

लोकप्रिय पोस्ट

- विज्ञापन -